arunodayautkarsh Logo
arunodayautkarsh advertisement

कलयुग के सबसे बड़े लुटेरे साबित हो रहे हैं शिक्षा माफिया: पाराशर

अरुणोदय उत्कर्ष, पूनम गौतम, फरीदाबाद 2 9 मार्च : निजी स्कूलों द्वारा अभिभावकों के साथ शिक्षा के नाम पर इस साल भी जमकर लूट की जा रही है। बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एल एन पाराशर ने निजी स्कूलों की मनमानी व लूट पर प्रदेश सरकार की खामोशी की कड़ी निदा की है। एडवोकेट पाराशर ने कहा कि प्रदेश सरकार व शिक्षा विभाग की इसी खामोशी के कारण निजी स्कूलों की मनमानी को मूक समर्थन मिल रहा है यही कारण है कि निजी स्कूल मनमानी से बाज नहीं आ रहे हैं। पाराशर के मुताबिक़ जहां इन स्कूलों के द्वारा फीसों में भारी बढ़ोतरी की जा रही है वहीं आई कार्ड के नाम पर भी ठगी की जा रही है। पाराशर ने कहा कि यह खुली लूट है व निजी स्कूलों की शैक्षणिक अराजकता है। इस तरह यह निजी स्कूलों की मनमानी है। पाराशर ने फरीदाबाद की जनता से अपील की है कि इस लूट किसी भी सूरत में बर्दाश्त न करें और अगर किसी स्कूल में लूट की दुकान खुली देखें तो मेरे पास उसकी तस्वीरें व् वीडियो भेजें मैं उन लुटेरों को कोर्ट में घसीटूंगा। पाराशर ने कहा कि शहर के कई स्कूल ऐसे हैं जो किसी संस्था के नाम पर हैं और इन संस्थाओं के लोगों ने सरकार से बहुत कम कीमत पर जमीन ली और वहां स्कूल चला रहे हैं और जनता को ठग रहे हैं।




Pradeep