arunodayautkarsh Logo
arunodayautkarsh advertisement

दीदी का मिशन थर्ड फ्रंट, दिल्ली में एक घंटे तक चली शरद पवार के साथ बैठक

New Delhi News, 27 March   2018  ; ​ रामनवमी पर हथियारों के साथ शोभायात्रा निकाले जाने को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा व राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर तीखा हमला बोला। कहा, राम के नाम पर गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करेंगी। दक्षिण 24 परगना जिले में प्रशासनिक बैठक में ममता ने शोभायात्रा में हथियार शामिल किए जाने को लेकर आश्चर्य व्यक्त करते हुए प्रशासनिक अधिकारियों व नेताओं से पूछा, क्या भगवान राम के हाथों में पिस्तौल और तलवार देखें हैं? बदमाशों का एक समूह सरेआम हथियार लहरा रहे थे तब क्या प्रशासन खामोश बैठा था? क्या प्रशासन को ऐसे तत्वों के खिलाफ झुकना चाहिए? उन्होंने सवाल किया कि शस्त्र जुलूस पर पाबंदी के बावजूद हथियार के साथ जुलूस कैसे निकाला? उन्होंने बैठक में मौजूद पुलिस महानिदेशक सुरजीत कर पुरकायस्थ को शस्त्र कानून के तहत तत्काल सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया। चाहे कोई भी हो किसी को नहीं बख्शा जाएगा। राम का नाम बदनाम करने वालों को नहीं छोड़ा जाएगा। पुलिस अधिकारी पर भी होगी सख्त कार्रवाई मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि कोई पुलिस अधिकारी शस्त्र जुलूस निकालने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश की अनदेखी करते है तो उसके खिलाफ सख्त कदम उठाया जाएगा। जुलूस में पिस्तौल भी दिखा: सीएम रविवार को पुरुलिया जिले में दो गुटों के बीच झड़प में शेख शाहजहां की मौत हो गई जबकि डीएसपी समेत चार लोग घायल हो गए थे। ममता ने कहा कि पुरुलिया में शोभायात्रा में कुछ लोग पिस्तौल लहराते देखे गए। राजनीतिक स्वार्थ के कारण कुछ लोग इस तरह की गतिविधियों को बढ़ावा दे रहे हैं जिसकी बंगाल में कोई जगह नहीं है। ममता ने कहा कि घटना में जिस भी शख्स की जान गई है मैं उसे अपने भाई के रूप में मानती हूं, मुझे यह जानने की जरूरत नहीं कि वे कौन है और उसका धर्म क्या है। एक पार्टी हथियार के बल पर पूरे देश में राज करना चाहते हैं।




Pradeep