arunodayautkarsh Logo
arunodayautkarsh advertisement

कुछ प्राप्त करने की प्रबल इच्छा शक्ति ही नई खोज को जन्म देती है :उप जिलाधीश अपराजिता

अरुणोदय उत्कर्ष न्यूज, फरीदाबाद (बल्लभगढ़), 10 फरवरी 2021-एसडीएम अपराजिता ने कहा कि जीवन में जहां भी कुछ सीखने को मिले, वहां मन लगाकर तत्परता और शालीनता के साथ सीख लेनी चाहिए। नया सीखने के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए। एसडीएम अपराजिता ने ये बातें स्थानीय जेसी बोस वाईएमसीए विश्वविद्यालय में इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग विभाग द्वारा इलेक्ट्रॉनिक्स प्रसार वर्कशॉप में उपस्थित विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कही।एसडीएम अपराजिता ने वर्कशॉप में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत कर रही थी। उन्होंने कहा कि कैरियर में सीखने पर स्वयं को सामाजिक उत्थान में बेहतर सहयोग मिलता है। एसडीएम अपराजिता ने कहा कि स्कूली विद्यार्थी जीवन में विद्यार्थियों को चरित्र बदलने का अहम समय होता है। नया सीखने के लिए जहां भी का मौका मिले वहां पर आवश्यक सीख लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अपने सीनियर से अवश्य नई नई जानकारी लेनी चाहिए। नया सीखने के लिए हमेशा तत्पर रहना चाहिए। विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर प्रोफेसर दिनेश कुमार ने एसडीएम अपराजिता का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि यह विश्वविद्यालय इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बनाए हुए हैं। यहां के विद्यार्थियों ने इलेक्ट्रॉनिक के क्षेत्र में नई-नई खोज करके एक मिसाल कायम की है। एक दिवसीय इलेक्ट्रॉनिक प्रसार वर्कशॉप का आयोजन वाईएमसीए विश्वविद्यालय में किया गया। इलेक्ट्रॉनिक प्रसार वर्कशॉप में राजकीय गर्ल सीनियर सेकेंडरी स्कूल बल्लभगढ़ की 50 और राजकीय गर्ल सीनियर सेकेंडरी स्कूल सीही की 50 छात्राओं सहित लगभग 100 छात्राओं ने भाग लिया। वर्कशॉप में खंड शिक्षा अधिकारी बलबीर कौर, विश्वविद्यालय की प्राध्यापक रश्मि, इसराना बेगम, दोनों स्कूलों के प्रिंसिपल सहित विश्वविद्यालय के इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर विभाग के अन्य प्रोफेसर उपस्थित रहे।




Pradeep