arunodayautkarsh Logo
arunodayautkarsh advertisement

बांदा के किसानो की ट्रैक्टर रैली को एनएच 35 पर तुर्रा पुल में रोका प्रशासन ने, समर्थन में सपा ने निकाली ट्रैक्टर रैली, रिपोर्टः सन्तोष कुशवाहा, बदौसा (बांदा)

अरुणोदय उत्कर्ष न्यूज, सन्तोष कुशवाहा ब्यूरो चीफ बुन्देलखण्ड़, बदौसा (बांदा) 26 जनवरी संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर गणतन्त्र दिवस में ट्रैक्टर रैली निकालनें तहसील अतर्रा जा रहे किसानो को बदौसा थाना क्षेत्र के तुर्रा पुल के पास पुलिस नें रोका, किसानों ने वहीं पर सभा कर आक्रोश ब्यक्त किया। इसके अलावा समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशन पर जिले की सभी तहसीलों में ट्रैक्टर रैली निकाल कर किसान आन्दोलन का समर्थन किया गया। अतर्रा तहसील में सत्यनारायण सोनकर के नेतृत्व में समाजवादियों नें ट्रैक्टर रैली निकाली। मंगलवार गणतंत्र दिवस के अवसर पर बांदा जिले के बदौसा क्षेत्र से बुन्देलखण्ड़ किसान यूनियन के राजा मनीष तिवारी व भारतीय किसान यूनियन के तहसील अध्यक्ष महेन्द्र त्रिपाठी की अगुआई में करीब दो सौ किसानों का जत्था 30 ट्रैक्टरों से निकला ट्रैक्टर रैली पूर्व घोषित कार्यक्रमानुसार तहसील अतर्रा में तीन काले कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग के समर्थन में जा रहे थे तभी किसान बिरोधी भाजपा सरकार के आदेश पर प्रशासन नें तुर्रा पुल पर पुलिस बल का प्रयोग रोक दिया। बदौसा अतर्रा थाने की पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे उपजिलाधिकारी अतर्रा जेपी यादव, तहसीलदार अतर्रा भारी पुलिस बल के साथ पहुंच कर महुंटा, तेरा, पथरा व तुर्रा गांव के किसानों को रोक दिया। बलराम तिवारी मण्डल अध्यक्ष भारतीय किसान यूनियन नें कहा सरकार किसान बिरोधी है, भारत के इतिहास में गणतंत्र दिवस पर किसानों को तहसील परेड निकालने से रोकना लोक तंत्र के लिए कलंक है। सरकार किसानों की आवाज को दबा नही सकती है देश के किसान जाग गया है। इस दौरान दिलीप द्विवेदी, राजा सिंह, राजू सिंह, ओंकार सिंह महिला जिला अध्यक्ष सरोज कुशवाहा, गोलू सिह, शिव शंकर सिंह, राजू त्रिपाठी आदि लगभग दो सौ किसान मौजूद रहे।




Pradeep