arunodayautkarsh Logo
arunodayautkarsh advertisement

चंडीगढ़ - कर्मचारियों की सेवा और आचरण से संबंधित डाटा को एचआरएमएस पोर्टल पर जल्द से जल्द अपडेट करें:मुख्यमंत्री खट्टर

अरुणोदय उत्कर्ष न्यूज, संवाददाता चंडीगढ़ 14 जुलाई- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने सभी अधिकारियों को मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली (एचआरएमएस) पोर्टल पर सरकारी विभागों, बोर्डों, निगमों, समितियों और विश्वविद्यालयों में कार्यरत प्रत्येक कर्मचारी के डाटा को अपडेट करने के कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।मुख्यमंत्री आज यहां एचआरएमएस की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अधिकारी एचआरएमएस पर सभी गतिविधियों को सुचारू रूप से संचालित करना सुनिश्चित करें और कर्मचारियों के सेवा और आचरण से संबंधित डाटा को एचआरएमएस पोर्टल पर जल्द से जल्द अपडेट करें।मुख्यमंत्री ने कहा कि आमजन और अधिकारियों के बीच वर्चुअल मीटिंग आयोजित करने की सुविधा प्रदान करने के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म ‘ई-सचिवालय’ जल्द ही लॉन्च किया जाएगा। इस डिजिटल प्लेटफॉर्म के लॉन्च होने से आम जन को मंत्रियों और विभिन्न अधिकारियों से मिलने के लिए सरलता से ऑनलाइन अपॉइंटमेंट की सुविधा मिलेगी।उन्होंने कहा कि ई-सचिवालय का उद्देश्य नागरिक सेवाओं के वितरण में बेहतर कामकाज, समन्वय और प्रभावशीलता सुनिश्चित करने के लिए, विशेषकर कोविड-19 महामारी के समय में, सरकार और अधिकारियों को एक प्लेटफॉर्म पर लाना है।बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली पोर्टल पर विभिन्न विभागों के 91 कार्यालय पंजीकृत हैं। इसके अलावा, 45 बोर्ड और निगम हैं। इस पोर्टल पर कर्मचारियों के सेवा-संबंधित सभी गतिविधियों और डिजीटल सर्विस बुक को अपलोड किया गया है। इसके अलावा, इस पोर्टल पर एकीकृत वित्तीय प्रबंधन प्रणाली (आईएफएमएस) के ई-वेतन प्रणाली के साथ एकीकृत वर्कफ़्लो सहित कर्मचारियों की जानकारी 24 घंटे उपलब्ध है।मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि एचआरएमएस पर उपलब्ध डाटा सरकार को सही निर्णय लेने के साथ-साथ कर्मचारियों, योजना, भर्ती, नियुक्ति, पदोन्नति, ऐसीपी, सेवा विस्तार और कौशल के आधार पर कर्मचारियों के स्थानांतरण आदि की उचित निगरानी में मदद करता है।बैठक में यह भी बताया गया कि एचआरएमएस पोर्टल में कर्मचारी के मूल विवरण, नियुक्ति विवरण, सेवा सत्यापन, अवकाश, ऋण व अग्रिम विवरण, एसीआर तथा अन्य विवरणों सहित ई-सर्विस बुक की विशेषताएं शामिल हैं।मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि एचआरएमएस पोर्टल के साथ डाटा अपडेट करने से न केवल सरकार को लाभ होगा, बल्कि इससे कर्मचारियों को भी मदद मिलेगी जो सेवानिवृत्ति के बाद अपने सर्विस रिकॉर्ड के बारे में विवरण प्राप्त करने में परेशानियों का सामना करते हैं।इस अवसर पर, मुख्य सचिव श्रीमती केशनी आनन्द अरोड़ा, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री टी. वी. एस. एन. प्रसाद, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव, श्री वी. उमाशंकर, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के प्रधान सचिव श्री अंकुर गुप्ता, सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान सचिव श्री विजयेंद्र कुमार, उपस्थित थे।




Pradeep